Wednesday, 19 April 2017

आप भी जानिए जीभ साफ ना करने के ये अंजाम

Image result for clean tongueहमें बचपन से ही सिखाया जाता है कि दांतों को हेल्दी और शाइनी रखना है तो दिन में दो बार ब्रश करना चाहिए. ये हम सब जानते हैं ब्रश ना करने से दांतों में कैविटिज हो जाती हैं और ये बैड डेंटल हेल्थ रूटीन है. लेकिन क्या आपने कभी ये सोचा है कि रोजाना टंग क्लीनर ना करने से क्या होता है?

  • हाइजिंन मेंटन- टंग क्लीनिंग भी ब्रश की तरह ही हाइजिंन मेंटन करने का जरिया है. ये डेड स्किन सेल्स को खत्म करता है. इसके साथ ही ये बैक्टीरिया, टॉक्सिंस, फंगस और जमे हुए फूड को जीभ के आसपास से बाहर निकालता है. मुंह से आने वाली बदबू का जिम्मेदार कुछ हद तक ये बैक्टी रिया भी होते हैं जो टंग के आसपास जमे रहते हैं.
  • डेंटल हेल्थ- जीभ को साफ करने से कई तरह के हेल्थ इश्यू भी दूर होते हैं. जैसे इम्यून सिस्टम बूस्ट होता है. डायजेशन में हेल्प मिलती है. डेंटल हेल्थ ठीक रहती है. अगर आप रोजाना टंग क्लीन नहीं करते तो आपको कई तरह की हेल्थ कंडीशंस से गुजरना पड़ सकता है.
  • मुंह से स्मैल- अगर आप जीभ साफ नहीं करते तो मुंह‍ से बदबू आने लगती है. दरअसल, टंग रोजाना क्लीन ना करने से बैक्टीरिया जीभ पर जमने लगते हैं और कुछ समय बाद मुंह से स्मैल आने लगती है.
  • गम डिजीज़- जीभ साफ करने से ना सिर्फ टंग रिलेटिड प्रॉब्‍लम्स होने लगती हैं बल्कि गम डिजीज़ होने का कारण भी ये बनता है. कई बार जब आप ब्रश करते हैं तो मुंह से ब्लड आने लगता है. हम सोचते हैं कि गम रिलेटिड प्रॉब्लम्स की वजह से ऐसा हो रहा है. ये सच है कि ऐसा होता है लेकिन हर मामले में ऐसा नहीं होता. ये मसूड़ों में सूजन की वजह से भी हो सकता है जो एक टंग रिलेटिड प्रॉब्लम है. इससे गम्स रेड हो जाते हैं उनमें स्वैलिंग होने लगती है और ब्लड आने लगता है.
  • दांतों पर इफेक्ट- टंग क्लीन ना करने से गम्स वीक हो जाते हैं. ऐसे में बैक्टीरिया आसानी से गम्स पर अटैक करते हैं. दांतों पर इसका लंबे समय तक इफेक्ट रहता है. ऐसे में दांत गिरने का भी डर रहता है. अगर आप चाहते हैं कि ऐसा ना हो आपको रोजाना जीभ साफ करनी चाहिए. लंबे समय तक दांतों को डैमेज से बचाने के लिए रोजाना टंग क्लीजन करें.
  • टेस्ट सेंस- क्या कई बार आपको खाने में टेस्ट बिगड़ा हुआ आता है? ऐसा इसलिए भी हो सकता है क्योंकि आप बैक्टीरिया के कारण अपना टेस्ट ऑफ सेंस भूल चुके हैं. दरअसल, डेड स्किन और वेस्ट फूड जीभ पर चिपक जाता है जिसमें कुछ समय बाद बैक्टीरिया आने लगते हैं. इससे फूड का टेस्ट भी बिगड़ा-बिगड़ा लगता है.
  • यीस्ट इंफेक्शन- बहुत सी महिलाओं को प्राइवेट पार्ट में यीस्ट इंफेक्शन होता है लेकिन क्या आप जानते हैं ये यीस्ट इंफेक्शन जीभ में भी हो सकता है. जब मुंह में बैक्टीरिया लेवल हाई हो जाता है तो यीस्ट नैचुनरली बिल्ड करने लगता है. ऐसी टंग क्ली‍न ना करने की वजह से होता है. एंटीफंगल मेडिकेशन से भी यीस्ट इंफेक्शन खत्म किया जा सकता है.
  • पेरिओडांटल डिजीज़- टंग के बैक्टीरिया दांतों में भी ट्रांसफर हो सकते हैं. अगर गम्स का ठीक से इलाज ना करवाया जाए तो इंफ्लेमेशन पेरिओडांटल डिजीज़ में बदल जाती है. ये बहुत ही खतरनाक स्थिति होती है.
    अब तो आप समझ गए होंगे कि टंग क्लीन ना करने से क्या नुकसान हो सकते हैं.

No comments:

Post a Comment