Tuesday, 10 July 2018

यहाँ पे आप सरस्वती नदी को लुप्त होते हुऐ देख भी सकते हो.

पवित्र नदियों गँगा, यमुना और सरस्वती के बारे मे आपने सुना होगा. मगर देखा केवल गँगा यमुना को है. इस स्थान पर आकर सरस्वती नदी गुप्तगामिनि हो जाती है. ये जगह उत्तराखंड मे बद्रीनाथ से भी आगे भीमपुर के माणा गाँव के पास है. यहीं पर व्यास जी ने महाभारत लिखी थी मगर सरस्वती नदी के बहाव के शोर मे गणेश जी उनको नही सुन पा रहे थे. इसलिये व्यास जी ने उसे श्राप दिया और वो धरती के अंदर लुप्त हो गई.
मजे की वात ये है कि यहाँ पे आप सरस्वती नदी को लुप्त होते हुऐ देख भी सकते हो.
आप भी देखो और अपनी अगली पीढियों को भी दिखाओ.? अदभुद दर्शन है सरस्वती जी के । जिसने विडियो भेजा है उनका धन्यवाद

No comments:

Post a Comment